अब आप भी बडे बाबा के साथ जुड जायें – आचार्य श्री महान संत के साथ जन जन चल रहा उनके संग 

इस न्यूज़ को सुनें

 

अब आप भी बडे बाबा के साथ जुड जायें – आचार्य श्री

 

महान संत के साथ जन जन चल रहा उनके संग

 

दमोह। घना कोहरा, कडकती ठंड आदि अनेक बाधाओं को लाघंते हुए महान जैन व जन जन के गुरुदेव संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्या सागर जी महराज के कदम कुण्‍डलपुर की ओर आज पहुंच रहे है। शनिवार की सुबह सूर्योदय की लालिमा बिखरते ही आचार्य श्री ससंघ हिण्‍डोरिया से कुण्‍डलपुर की ओर निकल पडे, उनके साथ एक दो नहीं बल्कि हजारो भक्‍त पीछे पीछे चल रहे थे। जैसे जैसे आचार्य श्री के कदम कुण्‍डलपुर की ओर बढ रहे वैसे वैसे ही मौसम अनुकूल होता जा रहा था। लोग कानाफूंसी करने लगे की देखो इन महान संत का स्‍वागत अभिनंदन प्रकृति भी अपने अनोखे अंदाज में कर रही है।

 

आर्यिका गुरूमति माता जी ससंघ, आर्यिका गुणमति माता जी ससंघ, पुलिस प्रशासन, विधायक, जनप्रतिनिधि, श्रावक, भैया जी, दीदी जी, सकल दिगम्बर जैन दमोह के भक्त बडी संख्‍या में आचार्य श्री के साथ साथ चल रहे थे। खेतों में काम कर रहे मजदूर, किसान आदि भी अपना काम छोड आचार्य श्री की एक झलक पाने के लिए सडक किनारे हाथ जोडकर खडे हो गये। गुवाहटी असम से 50 सदस्‍यीय शिष्‍य मंडल भी आचार्य श्री के साथ साथ चल रहा था।

 

आचार्य श्री ने प्राथमिक स्‍कूल ककरान में श्रावकों को अपना मंगल आशीष देते हुए कहा कि मोबाईल की क्षमता उसकी कूबत के अनुसार होती है, कोई 10-20 किलो मीटर दूर चलता है। कोई 50 किलोमीटर तक। कोई उपर से लगता तो कोई नीचे से, संपर्क कर लेता है। हमारे पास कोई मोबाईल नहीं है, लेकिन हमारे पास बडे बाबा के साथ संपर्क करने की साधना है। जिससे हम उनसे जुडे हुए है, हम चाहते है कि आप लोगों का संपर्क बडे बाबा के साथ जुड जाये, क्‍योकि इतनी बडी विभूति का कार्य, अनुष्‍ठान सभी को सौभाग्‍य से मिला है। बडे बाबा उच्‍च सिंहासन पर विराजकर भी पंतग की डोर अपने हाथ में लिए हुए है। अब थोडा सा रह गया है ओर कुछ भी नहीं है। मन में किसी प्रकार की कामना न रहे, कार्य करें।

 

आचार्य श्री की आहारचर्या ककरान स्‍कूल में ही सम्‍पन्‍न हुई। जहां पर हटा विधायक पी एल तंतुवाय ने सपरिवार पहुंच कर गुरुदेव को श्रीफल अर्पित कर आशीर्वाद लिया। गुरुदेव के आज सुबह के मंगल विहार में भाजपा अनुसूचित मोर्चा जिला अध्यक्ष डॉ आलोक अहिरवार ने हिंडोरिया से ककरान तक पैदल चले।

 

कुण्‍डलपुर में आज छोटे बाबा का बडे बाबा से मिलन होगा, देखेगी हजारों आंखे

 

विगत पांच साल पांच महीने पांच दिन के अंतराल उपरांत आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज रविवार 5 दिसम्‍बर को दोपहर ढाई बजे कुण्‍डलपुर पहुंच रहे है। आचार्य श्री की कुण्‍डलपुर में भव्य अगवानी को देखते हुए दमोह जिला की जैन समाज उत्‍साहित है। अगवानी को अविस्‍मरणीय बनाने के लिए महिला मण्‍डल के द्वारा जगह जगह रंगोली सजाई जा रही है। बंदनवार लगाये जा रहे है, स्‍वागत द्वार लगाये जा रहे है, दमोह जिला के सभी छोटे बडे गांवो से बडी संख्‍या में श्रावकों के वहां पहुंचने की संभावना है। कुण्‍डलपुर कमेटी भी सारी व्‍यवस्‍थाओं को लेकर पल पल की खबर ले रही है। आचार्य श्री के आगमन को लेकर कुण्‍डलपुर को सजाया जा रहा है।

 

कुण्डलपुर कमेटी के अध्यक्ष संतोष सिंघई ने गुरुदेव के भक्तो से इस मंगल अवसर पर कुण्‍डलपुर पधारने का आव्‍हान किया है जिससे गुरुदेव की अगवानी को भव्यता प्रदान की जा सके।

 

Related posts

Leave a Comment